साढ़े चार साल की मासूम रेप पीड़िता को नहीं मिला न्याय, पुलिस हर बार बदल रही अपना बयान

  • 14 Aug 2019
  • Reporter: समाचार फर्स्ट डेस्क

हिमाचल देवभूमि के नाम से जानी जाती है। लेकिन आए दिन यहां दुष्कर्म जैसी घिनौनाी वारदातें बढ़ती जाती हैं। हर दिन कोई-न-कोई महिला या बच्ची रेप जैसी घटना का शिकार बनती है और प्रशासन एक-दो दिन जांच करता है और फिर मामले को फाइल में बंद कर दिया जाता है। ऐसा ही एक मामला सप्ताह भर पहले मंडी में एक साढ़े चार साल की मासूम के साथ हुआ था। अभी तक इसका आरोपी पकड़ा गया है या नहीं इस बात की कोई पुष्टि नहीं हुई है।

प्रशासन के इस तरह के ढीले रवैये से लोगों को आहत पहुंचती है। क्योंकि अभी तक इस मामले में आगे कोई कार्रवाई नहीं हुई है और न ही जांच हुई है। पीड़िता के घरवाले जांच और न्याय की मांग कर रहे हैं।  पुलिस अभी तक इस मामले की जड़ तक नहीं पहुंच पाई है। परिवार वालों का कहना है कि हमसे भी साफ तौर पर कोई बात नहीं हुई है और पुलिस हर बार अपना बयान बदल रही है।   

पूरा मामला

मंडी जिले के रिवालसर में अगस्त में एक सप्ताह में यह बच्ची के साथ दूसरा रेप का मामला सामने आया था। साढ़े चार साल की बच्ची के साथ रेप किया गया था। स्कूल से घर आने के बाद बच्ची ने पेट दर्द की बात अपनी मां को बताई और कहा कि किसी ने उसके साथ बुरा बर्ताव किया। मां तुरंत अपनी बच्ची को मेडिकल कालेज नेरचौक ले गई, जहां डॉक्टरों ने जांच करने के बाद दुष्कर्म होना पाया। रेप करने वाला आरोपी अभी तक हिरासत में नहीं लिया गया है। पुलिस ने पॉक्सो एक्ट और धारा 376 के तहत मामला दर्ज़ कर कार्रवाई शुरू की थी। एसपी मंडी गुरदेव शर्मा ने कहा था कि पूरे मामले की गहनता से जांच पड़ताल कर रहे हैं। लेकिन अभी तक कोई जांच सामने नहीं आई है।