BJP के पत्र बम पर कूदी कांग्रेस, राठौर ने मामले की निष्पक्ष जांच सिटिंग जज से करवाने की उठाई मांग

  • 16 Sep 2019
  • Reporter: पी. चंद. शिमला

कांगड़ा पत्र बम को लेकर सियासत गरमा गई है। बीजेपी के बीच पत्र बम से सरकार सकते में है। चाहिए तो था कि इस मामले की निष्पक्ष जांच होती और सच्चाई सामने आती। लेकिन ऐसा हो नहीं रहा है। बीजेपी के पूर्व मंत्री रविन्द्र रवि को मामले की पूछताछ के लिए थाने बुलाया गया। ये मामला भ्रष्टाचार से जुड़ा हुआ है। आम जन के स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ मामला है। घटिया दवाइयां क्यों खरीदी गई। ये बात कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर ने शिमला में पत्रकार वार्ता में कही।

उन्होंने कहा यदि इन आरोपों में सच्चाई है तो ये गंभीर मामला है। इसलिए कांग्रेस पार्टी इसको लेकर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपकर मांग करेगी कि इस मामले की जांच उच्च न्यायालय के सिटींग जज से हो। स्वास्थ्य विभाग ने तो मामले में क्लीन चिट भी दे दी है। स्वास्थ्य विभाग का ही तो घोटाला है फ़िर वह निष्पक्ष जांच कैसे करेगा। सरकार की किसी जांच एजेंसी पर भरोसा नही है। इसलिए मामले की जांच सिटिंग जज करें।

हिमाचल में ड्रग माफ़िया हावी है। क्योंकि नशे की छोटी मोटी खेप ही पकड़ी जा रही है जबकि इसके पीछे कौन है उन सरगना को नही पकड़ा जा रहा है। महिलाओं के प्रति रेप अत्याचार बढ़ रहे है। लेकिन सरकार गंभीर नही है। विकास तो पूरे देश मे ही नही हो रहा है ऐसे में हिमाचल की स्थिति तो ओर भी खराब है। अनुराग ठाकुर भी केंद्र की योजनाओं को नही गिना पाए। देश मे आर्थिक मंदी का दौर चल रहा है। ऑटोमोबाइल सेक्टर पिट चुका है रोज़गार टूट गए , बेरोजगारी बढ़ गई है सरकार को आरबीआई से पैसा लेकर देश चला रही है। जिसको देखते हुए कांग्रेस पार्टी देश व्यापी आंदोलन शुरू करने जा रही है।

कांग्रेस इसके ख़िलाफ़ हिमाचल में भी 2 अक्टूबर से शिमला में पद यात्रा शुरू करेगी । जिसमें पार्टी प्रभारी सहित कांग्रेस के बड़े नेताओं के आने की भी संभावना है। पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए बूथ व ब्लॉक कमेटियों का गठन कर रही हैं। कांग्रेस पार्टी प्रदेश में होने वाले धर्मशाला व पच्छाद दोनों उपचुनावों के लिए तैयार है। कांग्रेस ने इसके लिए आब्जर्वर नियुक्त कर दिए है। सरकार इन दोनों क्षेत्रों में कुछ नही कर पाई है। इसलिए काँग्रेज़ पार्टी दोनों जगह जीत हासिल करेगी।