कुल्लू: साहसिक गतिविधियों पर लगा प्रतिबंध हटा, रिवर राफ्टिंग और पैराग्लाइडिंग कर सकेंगे सैलानी

  • 15 Sep 2019
  • Reporter: समाचार फर्स्ट डेस्क

कुल्लू में सैलानी अब ब्यास की लहरों में राफ्टिंग का आनंद और पैराग्लाइडिंग कर आसमान से बातें कर सकेंगे। प्रशासन की ओर से रिवर राफ्टिंग और पैराग्लाइडिंग पर 15 जुलाई से लगाया गया प्रतिबंध अब हट गया है। सैलानी अब इन खेलों का आनंद ले सकेंगे।

प्रतिबंध लगने से ब्यास नदी में रिवर राफ्टिंग के प्वाइंट बबेली, रायसन, पिरडी, भुंतर व बजौरा में जबकि पैराग्लाइडिंग के लिए मशहूर सोलंगनाला, मढ़ी व डोभी में वीरानगी छा गई थी, लेकिन अब प्रतिबंध खुलते ही दोबारा इन स्थानों पर चहल-पहल लौट आएगी।

बाहरी राज्य से कुल्लू-मनाली घूमने आने वाले पर्यटकों को होटल व्यवसायियों द्वारा साहसिक गतिविधियों का पैकेज देने का क्रम भी शुरू हो गया है। पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष चमन लाल और रिवर राफ्टिंग के अध्यक्ष शाम लाल अत्री ने कहा लंबे समय से मंदी की मार झेल रहे पर्यटन करोबारियों को दशहरा सीजन में बेहतर कारोबार की उम्‍मीद जगी है।