कांग्रेस का नेतृत्व दिन प्रतिदिन हो रहा खोखला, अभद्र व्यवहार के लिए सार्वजनिक रूप से मांगे माफी: CM 

  • 03 Mar 2021

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बुधवार को ऊना के भरवाईं में बीजेपी महिला मोर्चा की कार्यसमिति की बैटक में भाग लिया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी पार्टी के उत्थान में संगठन की भूमिका महत्वपूर्ण होती है और हिमाचल प्रदेश महिला मोर्चा ने अपनी इस भूमिका को सार्थक करते हुए प्रदेश में भाजपा को सशक्त बनाने में मदद की है। उन्होंन कहा कि महिला मोर्चा अपने समर्पण, सेवा भावना एवं कर्तव्य परायणता के चलते प्रदेश में ही नहीं देश भर में अपनी अलग पहचान बना चुका है। 

उन्होंने कहा कि महिलाओं के उत्साह व समर्पण का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इस बार के पंचायती राज चुनावों में महिलाओं की भागीदारी 62 प्रतिशत रही। उन्होंने महिला मोर्चा के पदाधिकारियों से आग्रह किया कि वह इन नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों में से संभावित सक्षम नेतृत्व की पहचान करें ताकि उनकी योग्यता का पार्टी पूरा लाभ उठा सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2009 में हिमाचल प्रदेश देश में दूसरा ऐसा राज्य बना, जिसने महिलाओं को पंचायती राज संस्थाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण दिया। मुख्यमंत्री ने महिला मोर्चा की पदाधिकारियों से आग्रह किया कि वह वर्ष 2022 में मिशन रिपीट के लिए जमीनी स्तर पर कार्य करें, ताकि लोगों को राज्य सरकार द्वारा उनके कल्याण के लिए किए जा रहे कार्यों एवं चलाई जा रही जन कल्याणकारी नीतियों एवं योजनाओं की जानकारी मिल सके। 

जयराम ठाकुर ने विधानसभा सत्र के दौरान कांग्रेस द्वारा राज्यपाल के साथ किए गए अभद्र व्यवहार का जिक्र करते हुए कहा कि इससे कांग्रेस पार्टी की हताशा जाहिर होती है एवं स्पष्ट होता है कि उनका नेतृत्व दिन प्रति दिन खोखला होता जा रहा है। बेहतर होगा कि प्रदेश कांग्रेस पार्टी अपने इस अभद्र व्यवहार के लिए सार्वजनिक रूप से राज्यपाल से क्षमा मांगें। लोगों ने कांग्रेस से इस तरह के अभद्र एवं गैर जिम्मेदार व्यवहार की अपेक्षा नहीं की थी। कांग्रेस के नेताओं को याद रखना चाहिए कि कानून से ऊपर कोई नहीं है, चाहे वे चुने हुए प्रतिनिधि हों या फिर किसी राजनीतिक दल के सदस्य। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि यह कांग्रेस पार्टी की लगातार पिछले दो लोकसभा चुनावों, विधानसभा चुनावों एवं हाल ही में संपन्न पंचायती राज संस्थाओं के चुनावों में हुई हार का नतीजा हो।