बरसात से तबाही पर पूर्व मंत्री ने जाहिर की चिंता, जयराम सरकार को दी नसीहत

  • 13 Aug 2018
  • Reporter: मृत्युंजय पुरी

प्रदेश में बरसात से लग़ातार हो रहे नुक्सान पर पूर्व मंत्री जीएस बाली ने चिंता जाहिर की है। जीएस बाली ने कहा कि प्रदेश में बरसाती नुक्सान से लोगों को दिक्कतें आ रही है और उन्हें सरकार द्वारा पूछा तक नहीं जा रहा। सरकार के सिस्टम में जंग लग चुका है और मुख्यमंत्री को अपने कान-आंख खोलकर इन्हें देखना चाहिए।

जीएस बाली ने कहा कि मंडी हादसे जैसा हादसा दोबारा न दोहराया जाए, इसके लिए कोई कड़े कदम उठाने चाहिए। सरकार को केंद्र से एक टीम बुलाकर यहां हो रहे नुक्सान की जांच करवानी चाहिए और रोड सेफ्टी के लिए कोई कदम उठाना चाहिए। प्रदेश में आए दिन हो रहे हादसे चिंताजनक हैं और इसपर जल्द कोई हल निकालना जरूरी है।

जुमलेबाजी कर सत्ता में बीजेपी

जीएस बाली ने कहा कि केंद्र सरकार और प्रदेश सरकार लोगों को धोखा देकर सत्ता में आई है। सरकार ऐसे समय पर पौधे दे रही है जिस समय में इन्हें यहां लगाना सम्भव नहीं हैं। सरकार किसानों को इटालियन पौधे दे रही है, लेकिन यह पौधे यहां के लिए ठीक नही हैं। सरकारी धन का दुरुपयोग किया जा रहा है और इन पौंधो की जांच की जानी चाहिए।

द्वेष भावना से काम कर रही सरकार

सरकार लोगों को टर्मीनेट करके नए लोग रख रही है। अगर सरकार ऐसे ही करती रही तो लीगल वॉर शुरू हो जाएगा जिससे प्रदेश मे सरकारी काम काज ठप हो रहेगा। सरकार आज द्वेष भावना से काम कर रही है और 100 से अधिक लोगों को सरकार ने निकाला जा चुका है। सरकार नौकरी तो दे नहीं पा रहे, लेकिन लोगों को निकालने का काम सरकार कर रही है। दिसंबर माह तक सरकार श्वेतपत्र जारी करे कि कितने लोगों को रोजगार दिए गए।

जीएस बाली ने कहा कि माफिया राज आज सरकार के सरंक्षण में काम कर रहा है। लगातार निजी बसों का काफिला बढ़ रहा है और एचआरटीसी बसों की अनदेखी हो रही है। सरकार प्रदेश में 100 से अधिक स्कूल सरकार बन्द करने जा रही है जिससे बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। नगरोटा बगवां मे इंजीनियरिंग कॉलेज के नाम बदलने पर पूर्व मंत्री ने कहा की यह सरकार किस ओर आ रही है। किसी योजना का नाम चेज करना अच्छी बात नहीं।