बिलासपुर में हल्दी का उत्पादन करने के लिए तलाशी जाएंगी संभावनाएं- DC

  • 11 Feb 2019
  • Reporter: सुनील

बिलासपुर को हल्दी के उत्पादन में विकसित करने के लिए व्यापक प्रयास किए जाएंगे ताकि किसानों को अपनी फसलों के आवारा पशुओं व जंगली जानवरों से होने वाले नुकसान से निजात मिले और उनकी आर्थिकी में बढ़ौतरी हो। यह बात उपायुक्त विवेक भाटिया ने प्रशासन में दक्षता बारे आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही। उन्होंने कहा कि जिला में हल्दी उत्पादन की आपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कृषि विभाग को ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित करने के निर्देश दिए जहां पर हल्दी की पैदावार की जा सके। उन्होंने कहा कि किसानों को हल्दी उत्पादन के लिए प्रेरित करके उन्हे उन्नत किस्म के बीज और अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए प्रयास किए जाएंगे। बिलासपुर की जलवायु हल्दी और अदरक के उत्पादन के लिए अनुकूल है।

डीसी ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा महिलाओं को सशक्त , स्वाबलम्बी और आत्मनिर्भर बनाने के लिए किए जा रहे प्रयासों को गति देने के लिए व्यास प्योर के उत्पादों को शीघ्र ब्राडिंग करके लॉच किया जाएगा। व्यास प्योर द्वारा निर्मित किए जा रहे उत्पाद सभी वर्गों के ध्यान में रखकर तैयार किए जा रहे हैं ताकि लोग सरलता से इन उत्पादों को खरीद सकें। उन्होंने सम्बन्धित विभाग को इस दिशा में प्राथमिकता से कार्य करने के निर्देश दिए।

उन्होंने लहणू में निर्मित होने वाले सीवरेज ट्रीटमैंट का कंपोनैंट वाईज प्राकलन शीघ्र तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश सम्बन्धित विभाग को दिए। उन्होंने शिक्षा में गुणवत्ता लाने के लिए जिला में किए जा रहे प्रयासों के साकारात्मक परिणाम आने के पश्चात अन्य तैयार किए गए प्रश्न पत्रों को शीघ्र उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए ताकि समय रहते उन्हें विद्यार्थियों को उपलब्ध करवाया जा सकें।

उन्होंने समस्त विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह विभाग के माध्यम से संचालित की जा रही विभिन्न योजनाओं व कार्यक्रमों की जानकारी लाभार्थियों के लिए तय मापदंडों सहित भेजना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि लोगों की सुविधा के लिए शुरू की गई हैलो डीसी ऐप सुविधा के वारे में सभी विभाग लोगों को जागरूक करें ताकि अधिक से अधिक लोग इस ऐप का प्रयोग करके लाभान्वित हो सकें।