कांगड़ा: पौंग बांध से छोड़ा गया पानी, एक फुट तक खोले गए 6 गेट

  • 11 Sep 2019
  • Reporter: मनोज धीमान

पौंग बांध पर बुधवार शाम 6 बजे बीबीएमबी कर्मचारियों ने चीफ इंजीनियर की मौजुदगी में पौंग बांध के एक-एक फुट तक छह गेट खोलकर पानी छोडा है।  वर्तमान में पौंग वांध का जलस्तर 1388.47 फीट  तक पहुंच  चुका है तथा हिमाचल प्रदेश के उपरी क्षेत्र में भारी बारिश का अन्देशा होने के चलते बीबीएमबी प्रशासन द्वारा आज पौंग वांध का पानी छोड़ने का निर्णय लिया गया था। जिससे आज समय करीव 6:00  शाम तक पौंग वांध के सभी छ: गेट एक एक फुट खोल दिये हैं जो स्पिलवे के माध्यम से 7422 क्यूसिक पानी छोड़ा गया है।

ट्रवाईन के माध्यम से पहले ही बिजली बनाने के लिये 12061 क्यूसिक पानी छोड़ा जा रहा है। इस तरह से आज पौंग डैम में स्पिलवे व ट्रवाईन के माध्यम से करीव 19500 क्यूसिक पानी पौंग वांध से वाहर छोड़ा गया है । इस सन्दर्भ में बीबीएमबी प्रशासन द्वारा एक पत्र जारी कर कांगड़ा प्रशासन सहित होशियारपुर प्रशासन को अलर्ट किया जा चुका है। मौका पर पौंग बांध के प्रशासनिक अधिकारी आर. एस राठौर ने बताया कि हिमाचल में अगले दिनों बारिश होने के आसार के चलते लोगों को अलर्ट कर पौंग बांध के छह गेट खोले गये हैं व इससे किसी भी तरह का कोई नुक्सान नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि अगर बारिश होती है तो पौंग बांध में और पानी आने की जगह बन जायेगी। उन्होंने कहा कि इस बारे प्रशासन  व लोगों को सचेत रहने के लिये कहा गया है। वहीं हल्का दसूहा विधायक अरूण मिक्की डोगरा ने कहा कि बीबीएमबी कर्मचारियों की देखरेख में पानी छोडा गया है व डैम के निचले हिस्से के लोगों को सचेत रहने के लिये कहा गया है। उन्होंने कहा कि पानी से कोई नुक्सान नहीं होगा बस सचेत रहने की आवश्यकता है। वहीं बीबीएमबी कर्मचारी यूनियन प्रधान विजय ठाकुर ने कहा कि पौंग बांध के निचले ईलाके के  लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है व उन्होंने पानी के किनारे ना जाने की सलाह दी ।